ईडी को रेड के दौरान सतेंद्र जैन के घर से मिले मात्र 2.79 लाख

कहा, हिमाचल में भाजपा सरकार की हकीकत सामने लाने पर केंद्रीय जांच एजेंसियों का कर रही आप के खिलाफ दुरूपयोग:

किसी के घर से 2 करोड़ की राशि बरामद कर सतेंद्र जैन फर्जी रिश्तेदार बना रही ईडी

आम आदमी पार्टी के हिमाचल प्रभारी ही सतेंद्र जैन

शिमला में आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता गौरव शर्मा ने एक पत्रकार वार्ता के दौरान पिछले सात दिनों से आप चुनाव प्रभारी हिमाचल सत्येंद्र जैन को हिरासत में रखने पर केंद्र सरकार पर सवाल खड़े किए। आप प्रवक्ता ने कहा ईडी ने केंद्र के इशारों पर,किसी के घर पर छापा मारकर दो करोड़ की राशि पकड़कर उसे सत्येंद्र जैन का रिश्तेदार बताया जो बिल्कुल फर्जी है और भाजपा की साजिश है। ईडी को सत्येंद्र जैन के घर से सिर्फ 2 लाख 79 हजार 200 रुपए मिला है जिसका ईडी ने कोर्ट में दिए हलफनामे में लिखा है। आप प्रवक्ता ने ,प्रेस वार्ता में वो लेटर पत्रकारों को दिखाते हुए कहा, ईडी ने खुद माना है ,सत्येंद्र जैन के घर से उनको केवल 2 लाख 79 हजार 200 रुपए मिले हैं। लेकिन केंद्र सरकार साजिशन किसी और के घर के मिले पैसों को सत्येंद्र जैन का परिचित बता कर,सत्येंद्र जैन के खिलाफ एक और साजिश रच रही। जबकि वो पैसा और परिचित सत्येंद्र जैन के नहीं हैं।

गौरव शर्मा ने केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि, केंद्र सरकार, एक ईमानदार और स्वच्छ छवि वाले सत्येंद्र जैन के खिलाफ, जांच एजेंसियों का दुरूपयोग कर रही है। पिछले कई दिनों से उनका इंटेरोगेशन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ईडी ने खुद कोर्ट में अपने हलफनामे में लिखा है,सत्येंद्र जैन आरोपी नहीं,उनके खिलाफ कोई एफआईआर नहीं,फिर भी पिछले कई दिनों से वो हिरासत में हैं। यही नहीं राजनैतिक द्वेष के चलते,भाजपा अब उनके घरों पर भी छापा मारकर,बिना वजह उनके परिवार को परेशान करवा रही है।

गौरव शर्मा ने कहा,भाजपा उन लोगों पर अपनी शक्ति का दुरूपयोग करती है, जो उनके खिलाफ आवाज उठाते हैं और बोलते हैं। उन्होंने भाजपा सरकार से पूछा कि आखिर, आम आदमी पार्टी के नेता व दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर इस तरह की कार्रवाई कर देश की जनता को क्या संदेश देना चाहती है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री, व हिमाचल के चुनाव प्रभारी सत्येन्द्र जैन पर मोदी व भाजपा की केंद्र सरकार राजनीतिक द्वेष के तहत कार्य कर रही है जो सही नहीं है और भाजपा को इसका खामियाजा जरूर भुक्तना पड़ेगा। उन्होंने भाजपा सरकार से पूछा कि आखिर क्यों उनके परिवार को केंद्र की कठपुतली, जांच एजेंसियों द्वारा टॉर्चर किया जा रहा है। क्यों एक 8 साल पुराने मामले में झूठे केस बनाकर उन्हें गिरफ्तार किया गया है।केंद्र सरकार साजिशन और जानबूझ कर सत्येंद्र जैन और उनके परिवार को परेशान कर रही है।

सत्येन्द्र जैन के खिलाफ रची जा रही साजिश का, जवाब देगी हिमाचल की जनता

गौरव शर्मा ने कहा कि, हिमाचल में आम आदमी पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता और बढ़ते जनाधार के बाद केंद्र सरकार अपनी ओछी हरकतों पर उतर आई है। क्योंकि सत्येन्द्र जैन ने हिमाचल में भाजपा सरकार की शिक्षा व्यवस्था और स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है। सत्येंद्र जैन कहते थे, हिमाचल में स्कूलों की दयनीय दशा है और स्वास्थ्य तो राम भरोसे है। ऐसे में बौखलाहट में हिमाचल के नेताओं ने,भाजपा आलाकमान से इसकी शिकायत की नतीजन ,केंद्रीय एजेंसियों का दुरप्रयोग कर उनके खिलाफ फर्जी मुकदमा कर उनको हिरासत में लिया गया। आज उनके हिरासत के सात दिन बाद भी जाने कुछ नहीं मिला है। बीजेपी उनके एक रिश्तेदार के घर से 2 करोड़ और कुछ सोने के गहने पकड़कर उन पर आरोप लगा रही है जो पूरी तरह फर्जी आरोप हैं। गौरव शर्मा ने कहा कि भाजपा द्वारा सत्येंद्र जैन के खिलाफ रची जा रही इस तरह साजिश का जल्द ही पर्दाफाश होगा और हिमाचल की जनता इस चुनाव में इसका जवाब देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *