मोदी का दौरा हिमाचल के लिए सौगातों की बरसात:बालनाहटा

हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक के चेयरमैन खुशीराम बालनाहटा ने प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और जयराम डबल इंजन सरकार के संयुक्त और समन्वयित प्रयासों से हिमाचल प्रदेश लगातार प्रगति के पथ पर अग्रसर है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के 13 अक्तुबर को ऊना और चम्बा के प्रस्तावित दौरे की जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री मोदी का एक महीने की अल्पावधि में तीसरी बार हिमाचल आना उनके हिमाचल के प्रति विशेष लगाव को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सबसे पहले ऊना जिला के हरोली में प्रस्तावित बल्क ड्रग पार्क का शिलान्यास करेंगे। जोकि हिमाचल के विकास में एक नया अध्याय जुड़ने जा रहा है। जिससे की प्रदेश में लगभग 50 हजार करोड़ का निवेश आएगा और लगभग 30 हजार प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से लोगों को रोज़गार उपलब्ध होगा। बल्क ड्रग इस परिपेक्ष्य में ऐतिहासिक साबित होगा।

प्रधानमंत्री मोदी 13 अक्तुबर को ही अम्ब इंदौरा से दिल्ली के लिए देश की चौथी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का शुभारम्भ भी करेंगे। यह हिमाचल के लिए सौभाग्य की बात है। और इससे ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा के अधिकतर क्षेत्र के लोगों को लाभ होगा। हिमाचल के ऊना से हमीरपुर के बीच रेलवे लाईन के निर्माण का सपना भी साकार होने जा रहा है। 48 किलोमीटर लंबी इस रेल लाईन के निमार्ण में लगभग 5 हजार 830 करोड़ की लागत आएगी जिसके सीधांतिक मंजूरी मिल गई है और डबल इंजन सरकार शीघ्र इस को कार्यान्वित करेगी ।

प्रधानमंत्री मोदी दौरे के दुसरे चरण में चम्बा जिले में विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन करेंगे। जिसमें 180 मैगावाट के बजोली-होली पावॅर प्रोजेक्ट को राष्ट्र को समर्पित करेंगे व दो अन्य पावॅर प्रोजेक्ट 48 मैगावाट के चांजु तृतीय चरण और 30 मैगावाट के देवथल चांजु का शिलान्यास करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तीसरे चरण जिसके लागत 3000करोड़ का भी शुभारंभ करेंगे ये वो क्रांतिकारी योजना है जिससे हिमाचल ही नहीं बल्कि पूरे देश के गांव-गांव को कनेक्टिविटी मिली है।

उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस के सर्वेसर्वा हिल स्टेशन पर छुटटियाँ मना रहे है और दुसरी ओर उददेश्यहीन भारत जोड़ो यात्रा चल रही है जिसका कांग्रेस के नेताओं को भी लक्ष्य मालूम नहीं है। उन्होंने बताया कि महात्मा गांधी ने आजादी के बाद कांग्रेस के नेताओं से कांग्रेस को भंग करने का आग्रह किया था और किसी और राजनीतिक दल का गठन करने के लिए कहा था। उस समय तो उन्होंने गांधी जी की बात नहीं मानी परंतु वर्तमान गांधी कांग्रेस को खत्म करने के लिए रात-दिन प्रयासरत है। यह तह है की भाजपा अपने प्रगतिशील कार्यों से , मजबूत संगठन एवं कार्यकर्ताओं की बदौलत दोबारा सरकार बनाएगी और रिवाज बदेलगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.