मुख्यमंत्री ने किन्नौर में 62 करोड़ के उद्घाटन व शिलान्यास किए

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ‘प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष’ कार्यक्रमों की श्रृंखला में किन्नौर जिला के टापरी के समीप छोल्टू में आयोजित समारोह के दौरान किन्नौर विधानसभा क्षेत्र के लिए लगभग 62 करोड़ रुपये लागत की 23 विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किए।
मुख्यमंत्री ने छोल्टू में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने पर देश की स्वतंत्रता में अतुलनीय योगदान देने वाले सेनानियों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए हर घर तिरंगा अभियान चलाया जिसे देश सहित हिमाचल में भी अपार समर्थन मिला। उन्होंने कहा कि हिमाचल भी अपने गठन के 75वें वर्ष में प्रवेश कर चुका है और राज्य की उन्नति व समृद्धि में योगदान देने वाले यहां की मेहनतकश व ईमानदार जनता तथा नेतृत्व का आभार व्यक्त करने के लिए ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ कार्यक्रम राज्य सरकार द्वारा आयोजित किया जा रहा है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूप में हमें देश की भावनाओं को समझने एवं जोड़ने वाला नेतृत्व प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में पूरे विश्व में भारत का गौरव बढ़ा है और कोरोना महामारी के दौरान भी उनके सशक्त नेतृत्व में भारत में स्वदेशी वैक्सीन निर्मित करने के साथ ही विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान भी सफलतापूर्वक संचालित किया गया। उन्होंने कोविड-19 टीकाकरण में शत-प्रतिशत लक्ष्य सबसे पहले प्राप्त करने के लिए किन्नौर जिला की जनता को बधाई देते हुए कहा कि सामूहिक प्रयासों से हिमाचल ने कोविड की पहली व दूसरी डोज सबसे पहले लगाने में देश भर में अव्वल स्थान हासिल किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्षी दल शायद प्रदेश सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों से परेशान हो चुके हैं और छोटे-बड़े आदमी की बात कहकर लोगों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं, जबकि इतिहास साक्षी रहा है कि बहुत से बड़े कार्य छोटे लोगों के द्वारा ही संपन्न किए गए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार का नेतृत्व गरीब के करीब रहकर कार्य करने को अपना ध्येय मानता है। उन्होंने कहा कि उन्होंने स्वयं भी गरीबी को बहुत करीबी से महसूस किया है और वंचित वर्ग के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री सहारा योजना, हिम केयर, मुख्यमंत्री शगुन योजना इत्यादि बहुत सी योजनाएं इसी संकल्प के साथ प्रारंभ की हैं।
जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा किन्नौर जिले में वर्ष 2008 से लंबित वन अधिकार अधिनियम (एफआरए) के 344 मामले स्वीकृत किए गए हैं। यह इस जनजातीय जिले को लोगों के लिए प्रदेश सरकार की एक बड़ी राहत है। उन्होंने कहा कि जनजातीय क्षेत्र विकास कार्यक्रम के तहत वित्त वर्ष 2022-23 में किन्नौर जिला के लिए 140 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान किया गया है जो पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 35 करोड़ रुपये अधिक है।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 42.15 करोड़ रुपये की 18 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण किए, जिनमें तहसील सांगला की ग्राम पंचायत रिशवाल में 56 लाख रुपये की जलापूर्ति योजना सांगला कण्डा, होलदो नाला से रिस्पा गांव के लिए सिंचाई योजना का 1.42 करोड़ रुपये का जीर्णोंद्धार कार्य, तहसील मुरंग की ग्राम पंचायत जंग्गी में जंग्गी विश्राम गृह से खारोडो ऑर्चड के लिए 1.25 करोड़ रुपये की सिंचाई योजना, तहसील मुरंग के अकपा उपमण्डल में 70 लाख रुपये लागत के सहायक अभियन्ता कार्यालय व आवास, रूकटी (सांगला) में 1.66 करोड़ रुपये का 22 केवी नियंत्रण प्वांइट, डुमटी में सीमावर्ती क्षेत्रों के विद्युतीकरण के लिए 3 करोड़ रुपये की 22 केवी एचटी लाइन, ऋषि डोगरी में सीमावर्ती क्षेत्रों के विद्युतीकरण के लिए 2.47 करोड़ रुपये की 22 केवी एचटी लाइन, लुकमा-1 में सीमावर्ती क्षेत्रों के विद्युतीकरण के लिए 56 लाख रुपये की 22 केवी एचटी लाइन, लुकमा-2 में सीमावर्ती क्षेत्रों के विद्युतीकरण के लिए 98 लाख रुपये की 22 केवी एचटी लाइन, सांगला में 93 लाख रुपये की मल्टीपर्पज पार्किंग, एक करोड़ रुपये लागत की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला न्यूगलसेरी, निचार में 3.56 करोड़ रुपये के एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय में छात्रा छात्रावास, 11 करोड़ रुपये लागत की चौड़ा मजगांव (रूपी) सड़क, काठी में 4.12 करोड़ रुपये लागत की देवी चण्डीका राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला,
रारंग में 4 करोड़ रुपये लागत का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला का भवन, असरंग में 2.33 करोड़ रुपये का राजकीय उच्च विद्यालय, पूह में 1.42 करोड़ रुपये लागत का बस अड्डा तथा रिकांगपिओ में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के लिए 1.20 करोड़ रुपये लागत के टाइप-2 आवास शामिल हैं।
मुख्यमंत्री ने 19.84 करोड़ रुपये की पांच विकासात्मक परियोजनाओं के शिलान्यास भी किए। इनमें तहसील कल्पा में रिकांगपिओ और समीप के क्षेत्रों के लिए 15.54 करोड़ रुपये के जलापूर्ति योजना के स्रोत सुदृढ़ीकरण का कार्य, ग्राम पंचायत निचार में ईएमआरएस स्कूल निचार के लिए 1.13 करोड़ रुपये लागत का मल निकासी संयंत्र, ग्राम पंचायत असरंग में स्टेजिंग हट का 1.30 करोड़ रुपये का पुनः निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत पूह में 98 लाख रुपये की लोअर पूह कुहल सिंचाई योजना तथा ग्राम पंचायत पूह में सिंचाई योजना पूह कुलह के 89 लाख रुपये की लागत से कमान्द एरिया विकास कार्य का शिलान्यास शामिल है।
इससे पहले स्थानीय लोगों ने यहां पहुंचने पर मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का पारम्परिक ढंग से भव्य स्वागत किया।
मुख्यमंत्री ने ‘हिमाचल तब और अब’ विषय पर आधारित विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। उन्होंने निर्वाचन विभाग द्वारा चलाए जा रहे हस्ताक्षर अभियान में भी भाग लिया और सेल्फी प्वाइंट पर सेल्फी ली।
हिमाचल प्रदेश वन विकास निगम के उपाध्यक्ष सूरत नेगी ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए किन्नौर विधानसभा क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास के लिए उनका आभार व्यक्त किया। पूर्व विधायक तेजवंत नेगी ने भी इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त किए।
समारोह के दौरान प्रदेश के गठन के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में तैयार गीत तथा सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा हिमाचल की विकास यात्रा पर आधारित वृत्तचित्र का प्रदर्शन भी किया गया।
इस अवसर पर जिला परिषद अध्यक्ष निहाल चारस, प्रदेश महिला मोर्चा कार्यालय सचिव एवं किन्नौर जिला प्रभारी कल्पना, जिला भाजपा अध्यक्ष संजीव हारा, जिला भाजपा उपाध्यक्ष चंद्रपाल मेहता व यशवंत नेगी, जिला भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष रवीना, अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष दलीप कुमार, अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष मदन नेगी, कल्पा भाजपा मण्डल के अध्यक्ष परविंद्र नेगी, निचार भाजपा मण्डल के अध्यक्ष संजय नेगी, पूह भाजपा मण्डल अध्यक्ष सुभाष छोरग्या, जिला भाजपा महामंत्री योगराज, जिला भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष प्रवीण, पंचायत समिति कल्पा के अध्यक्ष गंगा राम, पंचायत समिति निचार की अध्यक्ष राजवंती, पंचायत समिति पूह की अध्यक्ष इंदू किरण, किनफैड के अध्यक्ष दौलत नेगी, हथकरघा एवं हस्तशिल्प बोर्ड के निदेशक बलदेव, निदेशक सहकारी बैंक विनय नेगी, अनुसूचित जाति मोर्चा के महामंत्री सन्तोष राज, उपायुक्त आबिद हुसैन सादिक, पुलिस अधीक्षक विवेक चाहल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.