मुख्यमंत्री ने यमुना आरती में लिया भाग, यमुना शरद महोत्सव की दूसरी सांस्कृतिक संध्या का किया शुभारम्भ

मुख्यमंत्री ने 6.35 करोड़ रुपए की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला सिरमौर के पांवटा साहिब में आयोजित किए जा रहे तीन दिवसीय राज्य स्तरीय यमुना शरद महोत्सव के दौरान यमुना घाट पर आरती में भाग लिया, पूजा अर्चना की और दीप प्रज्वलित कर दूसरी सांस्कृतिक संध्या का शुभारम्भ किया। इस दौरान यमुना घाट को 10,000 दीप जलाकर जगमग किया गया।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मेले, तीज त्यौहार प्रदेश की समृद्ध संस्कृति के परिचायक हैं। मेले हमारे भीतर संस्कृति के प्रति सम्मान और समर्पण की भावना पैदा करते हैं। हिंदू धर्म में शरद पूर्णिमा का बहुत महत्व है तथा भगवान श्री कृष्ण और देवी यमुना का अटूट संबंध है। मेले में लोगों को सुख-दुख बांटने के अतिरिक्त प्रदेश की संस्कृति को जानने का अवसर भी मिलता है। ऐसा ही अवसर राज्य स्तरीय यमुना शरद महोत्सव प्रदान करता है जहां प्रदेश के साथ-साथ पड़ोसी राज्यों हरियाणा, उतराखण्ड और उत्तर प्रदेश के लोग व्यापारिक, सांस्कृतिक और खेलकूद गतिविधियों में शामिल होते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल में विकास को गति मिली है। कोरोना महामारी के दौरान स्थितियां अनुकूल नहीं थी, इसके बावजूद भी वर्तमान प्रदेश सरकार ने विकास की गति को तीव्र करने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि सिरमौर जिला की 153 पंचायतों के लोगों की मांग को पूरा करते हुए हाटी समुदाय को जनजातीय का दर्जा दिया गया है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने आयोजन स्थल पर स्थापित विभिन्न विभागों द्वारा प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की प्रदर्शनियों का अवलोकन किया और राज्य स्तरीय यमुना शरद महोत्सव समिति द्वारा प्रकाशित स्मारिका का विमोचन किया। इससे पहले, मुख्यमंत्री ने 6.35 करोड़ रुपए की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए। इनमें 30 लाख रुपये की लागत से निर्मित यमुना वन विहार के नजदीक यमुना घाट, 4.20 करोड़ रुपये से नगर परिषद क्षेत्र पांवटा साहिब के वार्ड नंबर-5 से 7 के बीच नाले के सौंदर्यकरण, 1.30 करोड़ रुपये की लागत से नगर परिषद पांवटा साहिब के सभी 13 वार्ड में निर्मित होने वाले पार्को का शिलान्यास, 20 लाख रुपये से औद्योगिक क्षेत्र गोंदपुर में बनने वाले उद्योग विहार का शिलान्यास, 20 लाख रुपये से बनने वाले वन विहार गोंदपुर का शिलान्यास और 15 लाख रुपये से वार्ड-7 में बास्केटबॉल कोट के निर्माण कार्य का शिलान्यास शामिल है।
बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री सुख राम चौधरी ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल के दौरान पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है जिसका श्रेय मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर को जाता है। उन्होंने कहा कि पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र को प्रदेश का आदर्श विधानसभा क्षेत्र बनाना उनका सपना है जिसके लिए वह प्रयासरत हैं। उन्होंने बताया कि लोगों को राजस्व संबंधी सुविधाएं घर द्वार पर उपलब्ध करवाने के लिए पांवटा साहिब में राजपुर और खोडोवाला में दो नई उप-तहसीलें तथा 11 नए पटवार वृत्त के अतिरिक्त राजपुरा और भटनवाली में दो नए कानूनगो वृत क्रियाशील किए गए हैं। इसके अतिरिक्त, किसानों के खेतों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए बिजली 30 पैसे प्रति यूनिट की दर से दी जा रही है। प्रदेश के 14 लाख से अधिक विद्युत उपभोक्ताओं को 125 यूनिट तक मुफ्त बिजली योजना का लाभ मिल रहा है।
उपायुक्त एवं अध्यक्ष राज्य स्तरीय यमुना शरद महोत्सव राम कुमार गौतम ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य अतिथियों का स्वागत किया और उन्हें राज्य स्तरीय यमुना शरद महोत्सव समिति की ओर से शॉल, टोपी और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।
इस अवसर पर सांसद लोकसभा सुरेश कश्यप, खाद्य आपूर्ति निगम के उपाध्यक्ष बलदेव तोमर, जिला परिषद सिरमौर के अध्यक्ष सीमा कन्याल, भाजपा मण्डल पावंटा साहिब के अध्यक्ष अरविंद गुप्ता, पुलिस अधीक्षक सिरमौर रमन कुमार मीणा, नगर परिषद के अध्यक्ष निर्मल कौर, उपाध्यक्ष ओ.पी. कटारिया तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.