हिमाचल में कांग्रेस भारी बहुमत से बना रही सरकारः नरेश चौहान

जयराम ठाकुर कमजोर मुख्मंत्री, अफसरशाही उनके आदेशों पर नहीं कर रही अमल

शिमला।
हिमाचल कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष नरेश चौहान ने कहा कि हिमाचल में कांग्रेस भारी बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। शिमला में एक प्रैस कांफ्रैंस में नरेश चौहान ने कहा कि हिमाचल में जयराम सरकार आज तक की सबसे कमजोर सरकार है। जयराम ठाकुर खुद एक कमजोर मुख्यमंत्री है जिनके आदेशों पर अफसरशाही कोई भी अमल नहीं कर रही।
नरेश चौहान ने हाल में एबीपी-सी वोर्टर्स के हिमाचल के संबंध में किए सर्वे पर कहा कि यह बीजेपी की रणनीति है। भाजपा अपने मित्रों के जरिए महौल बनाकर लोगों को गुमारह करने का प्रयास कर रही है। इसके आधार पर परसेप्शन बनाकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह दिल्ली का सर्वे है जो कि हकीकत से कोसों दूर है। सर्वे में विरोधाभासी बातें कही गई हैं। सर्वे में बताया गया है कि 45 फीसदी लोग जयराम सरकार से नाराज है और उसको बदलना चाह रहे हैं। वहीं 33 फीसदी लोग नाराज तो है, लेकिन सरकार को बदलना नहीं चाह रहे। अगर नाराजगी के पूरे आंकड़े को देखा जाए तो कुल मिलाकर 78 फीसदी लोग जयराम सरकार से नाराज है और सीटों में अगर इस आंकड़ें को बदला जाए तो इसके आधार पर 55 से 60 सीटें कांग्रेस को मिलती दिख रही है।

हिमाचल के एक चैनल के सर्वे में कांग्रेस बना रही सरकार
नरेश चौहान ने हिमाचल के लाइव टाइम्स टीवी के चुनावों के संबंध में किए सर्वे का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें साफ तौर पर हिमाचल में कांग्रेस सता में आती दिख रही है। यह चैनल मतदाताओं का आनलाइन सर्वे कर रहा है। अभी तक चैनल 28000 लोगों का सर्वे आनलाइन कर चुका है। इसमें सामने आया है कि कांग्रेस को 55 फीसदी लोग सता में लाना चाहते हैं, जबकि भाजपा को 41 फीसदी लोग ही पसंद कर रहे हैं। यह हिमाचल का सर्वे हैं। अगर इसको देखा जाए तो कांग्रेस विरोधी पार्टी से 14 फीसदी अधिक मत ले रही है और कांग्रेस की सीटों के शेयर में यह आंकड़ा बहुत ज्यादा है।

भाजपा उपचुनावों में हारी, आम चुनावों में भी हारेगी
नरेश चौहान ने कहा है कि हिमाचल में हर वर्ग भाजपा की सरकार से नाराज है। किसान बागवान, कर्मचारी, पैशनर्स सहित सभी वर्ग भाजपा की जनविरोधी नीतियों से त्रस्त है। भाजपा की डबल इंजन सरकार ने बेरोजगारी, मंहगाई देश और प्रदेश को दी है। हिमाचल की जनता भाजपा सरकार से किस कदर नाराज है, यह उपचुनावों में वह दिखा चुकी ह। जहां चारों सीटों पर भाजपा को मात खानी पड़ी है। आम चुनावों में भी भाजपा की हार तय है।

पत्रकारों से चरित्र प्रमाण पत्र मांगना शर्मसार करने वाला वाकया
नरेश चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे की कवरेज के लिए मीडिया कर्मियों से चरित्र प्रमाण पत्र मांगने के प्रशासन के फरमान को लोकतंत्र के लिए शर्मसार करने वाला बताया और इस पर कड़ी आपति जताई। प्रशासन की ओर जारी फरमान में कवरेज करने के लिए पत्रकारों को पास लेने के अलावा एसपी से चरित्र प्रमाण पत्र लेने के लिए आदेश जारी किए गए हैं। चौहान ने कहा कि देश के इतिहास में यह पहली दफा है कि पत्रकारों से इस तरह चरित्र प्रमाण पत्र मांगे गए हैं। उन्होंने कहा कि काग्रेस ने इस आदेश को गंभीरता से लिया है और इस आदेश को तुरंत रद्द किया जाना चाहिए।
इस मौके पर कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता सौरव चौहान भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.