राज्य सरकार कर्मचारियों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध: जय राम ठाकुर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज कांगड़ा में ‘मुख्यमंत्री की एक शाम, कांगड़ा के कर्मचारियों के नाम’ कार्यक्रम में भारी संख्या में मौजूद कर्मचारियों को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कोविड महामारी के बावजूद प्रदेश के सभी कर्मचारियों और अधिकारियों के बकाया और विभिन्न मांगों को समय-समय पर पूरा किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के कर्मचारी और अधिकारी राज्य की प्रगति और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश के सभी कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया जिन्होंने राज्य की प्रगति और खुशहाली में उल्लेखनीय भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के गठन के बाद कर्मचारियों ने सदैव ही राज्य के विकास में अपना योगदान सुनिश्चित किया है।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कर्मचारियों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है जबकि पिछली सरकार ने कर्मचारियों को विभिन्न आर्थिक लाभ प्रदान करने में कभी भी सहानुभूतिपूर्वक रवैया नहीं अपनाया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल ही में हुई प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में एसएमसी अध्यापकों को लाभान्वित करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि एनएचएम कर्मचारियों की उचित मांगों पर भी सरकार सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी।
मुख्यमंत्री ने कांगड़ा में तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के लिए सरकारी आवासीय भवनों के निर्माण के लिए 3 करोड़ रुपये का प्रावधान करने की घोषणा भी की।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए राज्य कर्मचारी और पेंशनभोगी कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष घनश्याम शर्मा ने कहा कि कोरोना संकट की चुनौतियों के बावजूद जय राम ठाकुर के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने कर्मचारियों की लंबे समय से चली आ रही मांगों को पूरा किया है।
इस मौके पर विधायक पवन काजल और विशाल नेहरिया, अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी ठाकुर, जिला अध्यक्ष अजय खट्टा, जिला परिषद अध्यक्ष रमेश बराड़, राज्य बास्केटबाल एसोसिएशन के अध्यक्ष मुनीश शर्मा, जिला भाजपा अध्यक्ष चंद्र भूषण नाग, उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल और अन्य भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.