भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पंडित खिमी राम शर्मा कांग्रेस में शामिल

प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ भाजपा को बड़ा झटका लगा है। पूर्व मंत्री व भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पंडित खिमी राम शर्मा कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला की मौजूदगी में नई दिल्ली में खिमी राम ने कांग्रेस का दामन थामा। खिमी राम प्रदेश भाजपा का बड़ा चेहरा रहे है और भाजपा में अहम पदों पर रहे। खिमी राम ने साल 1999 में बतौर जिला परिषद चुनाव लड़ा था और बाद में जिला परिषद अध्यक्ष भी बने। दो बार विधायक रहे खीमीराम शर्मा भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष भी रहे हैं। उन्होंने धूमल सरकार में वन मंत्री पद भी संभाला। हालांकि 2017 के विधानसभा चुनाव में खीमी राम शर्मा का टिकट कट गया। टिकट कटने के बाद से वह पार्टी में पूरी तरह से हाशिए पर चल रहे थे। इसके बाद उनको संगठन में भी कोई ओहदा नहीं दिया गया। अब उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया। बंजार विधानसभा क्षेत्र में खीमी राम शर्मा की अच्छी पकड़ मानी जाती है। माना जा रहा है कि वे विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार होंगे।

पंडित खीमी राम का कांग्रेस पार्टी मे शामिल होने पर कांग्रेस पार्टी के नेता उत्साह में हैं। पार्टी प्रवक्ता देवेंद्र बुशहरी ने पंडित खीमी राम के कांग्रेस में शामिल होने का स्वागत किया है। देवेन्द्र बुशहरी ने कहा कि पंडित खीमी राम एक अनुभवी व सुलझे हुए राज नेता हैं, उनके कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी और अधिक मजबूत होगी। बुशहरी ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जहां ये बात बार बार कह रहे थे कि कांग्रेस पार्टी के कुछ नेता उनके संपर्क में है, आज ये स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस के नही बल्कि भाजपा में अच्छी सोच रखने वाले नेता अपनी सरकार से प्रदेश में बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी, बढ़ते भ्रष्टाचार से तंग आकर कांग्रेस पार्टी मे शामिल होना चाहते है।
कांग्रेस पार्टी ऐसे नेताओं का सदैव स्वागत व सम्मान करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार कई बार अपनी सरकार मे बढ़ते भ्रष्टाचार के बारे में बोल चुके हैं परंतु भाजपा सरकार पर इसका कोई असर नहीं दिखाई देता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.