December 8, 2023

कांग्रेस ने दी दस गारंटी… कहा, सरकार बनते ही पूरे होंगे वादे

1 min read

भाजपा पर चुनावी जुमले देने का आरोप
छत्तीसगढ़ और राजस्थान की तरह वादे पूरे होंगे

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के लिए अपने दस वादों को गारंटी के रूप में जारी किया. इसमें पांच गारंटी वो भी शामिल हैं जिन्हें पहले जारी किया जा चुका था.
कांग्रेस ने इन्हें जारी करते हुए कहा है कि विधानसभा चुनाव में इस बार पार्टी ने हिमाचल में एक नई परंपरा शुरु करने का निर्णय लिया है और घोषणा पत्र लाने से पहले 10 गारंटी जारी कर रही है. पार्टी ने कहा है कि इन गारंटियों को प्राथमिकता के आधार पर पहले पूरा किया जाएगा.
गारंटी जारी करने के लिए आयोजित प्रेस वार्ता में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से हिमाचल चुनाव के लिए वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पर्यवेक्षक प्रताप सिंह बाजवा, प्रदेश के प्रभारी राजीव शुक्ला, प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष श्रीमती प्रतिभा सिंह, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और पूर्व अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सहित एआईसीसी के सचिवगण और अन्य वरिष्ठ नेता उपस्थित थे.
प्रेस वार्ता में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में भारतीय जनता पार्टी ने चुनावी घोषणाओं को जुमलों में बदलकर रख दिया है जबकि कांग्रेस अपना वादा निभाने पर भरोसा करती है इसीलिए इस बार गारंटियां जारी करने का निर्णय लिया गया है.
प्रेस वार्ता में छत्तीसगढ़ मॉडल पर भी चर्चा हुई और कहा गया कि छत्तीसगढ़ और राजस्थान की तरह हर वादे पूरे किए जाएंगे.
हर वर्ग की समस्या का हल
कांग्रेस ने कहा है कि हमने पूरे हिमाचल का सर्वेक्षण करने के बाद तय किया है कि कुछ विषयों पर हम अपने मतदाताओं को चुनावी वायदों को गारंटी के रूप में जारी करें। वैसे तो कांग्रेस का इतिहास रहा है कि हम अपने चुनावी वायदों को ‘चुनावी जुमला’ कहकर भुला नहीं देते, हम उन्हें पूरा करते हैं।
लेकिन इस बार परिस्थितियां दूसरी हैं। एक ओर आपके सामने भारतीय जनता पार्टी है जिसने अपने अधिकांश चुनावी वायदों को सत्ता में आने के बाद भुला दिया है। चाहे वह केंद्र की भाजपा सरकार हो या राज्य की, दोनों ने चुनावी वायदे पूरे नहीं किए हैं।
दूसरी ओर कांग्रेस के पास दो ठोस और ताज़ा उदाहरण हैं जिससे पता चलता है कि हम चुनावी वायदों को हर हाल में पूरा करते हैं। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने किसानों से वायदा किया था कि हम सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर कर्ज़ माफ़ करेंगे और सरकार बनने के दो घंटों के भीतर ही सभी किसानों के कर्ज़ माफ़ कर दिए गए। हमने किसानों से कहा कि हम धान के लिए प्रति क्विंटल 2500 रुपए देंगे तो केंद्र सरकार के अड़ंगों के बावजूद वहां लगातार किसानों को धान के 2500 रुपए मिल रहे हैं। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत गन्ने से लेकर दलहन-तिलहन तक बहुत सारी फसलों पर इनपुट सब्सिडी के माध्यम से समर्थन मूल्य के अलावा प्रति एकड़ 9,000 रुपए की राशि दी जा रही है।
राजस्थान सरकार भी अपना हर वादा समयबद्ध ढंग से पूरा कर रही है। दोनों ही राज्यों ने पुरानी पेंशन योजना लागू करने का फैसला किया है।
कांग्रेस ने कहा है कि हम जो गारंटी आपको दे रहे हैं, वो सरकार बनने के तुरंत बाद लागू होनी शुरू हो जाएंगी। चाहे वो पुरानी पेंशन योजना लागू करने की बात हो या फिर 5 लाख रोज़गार देने की। चाहे वह बागवानों की बात हो या हर महीने महिलाओं की आय की।

क्या है गारंटी में?

हिमाचल कांग्रेस की ओर से जारी 10 गारंटियों में सबसे बड़ी गारंटी पुरानी पेंशन योजना की बहाली है. चूंकि हिमाचल में सरकारी कर्मचारियों और सेवानिवृत्त कर्मचारियों की संख्या देश में सबसे बड़ी है इसलिए इस गारंटी से बड़ी संख्या में मतदाताओं के प्रभावित होने की संभावना है.
बेरोज़गारी की समस्या से जूझ रहे हिमाचल प्रदेश में बेरोज़गारों के लिए दो बड़ी गारंटी कांग्रेस ने दी है. एक तो पांच लाख रोज़गार देने की गारंटी है और दूसरा अपना कारोबार करने के इच्छुक युवाओं के लिए हर विधानसभा में 10 करोड़ रुपए का स्टार्ट अप फंड शुरु करने की योजना है. इसमें शून्य प्रतिशत दर पर नए कारोबार के लिए लोन दिया जाएगा.
महंगाई की मार से जूझ रहे लोगों को राहत देने के लिए जहां 300 यूनिट तक बिजली मुफ़्त में देने की गारंटी दी गई है तो महिलाओं को प्रतिमाह 1500 रुपए आय की गारंटी दी गई है.
आंदोलनरत सेब उत्पादक बागवानों सहित दूसरे फल की खेती करने वाले बागवानों की समस्या के हल के लिए कांग्रेस ने गारंटी दी है कि अपनी फसल की कीमत बागवान ही तय करेंगे और कांग्रेस की सरकार इन फलों को बाज़ार में बेचने की समस्या का भी हल करेगी.
निजी स्कूलों की भारी भरकम फ़ीस के बीच अंग्रेज़ी माध्यम के स्कूलों में पढ़ने से वंचित आम लोगों के बच्चों के लिए हर विधानसभा में चार अंग्रेज़ी माध्यम के स्कूल खोलने की बात कही गई है. तो अस्पतालों की दूरी कम करने के लिए गांव गांव में चलित अस्पताल पहुंचाने का वादा भी है.
गांवों में पिछले कुछ वर्षों में बढ़ रही आवारा या खुले पशुओं की समस्या से निजात के लिए और गौ पालकों की आय बढ़ाने के लिए दो गारंटी दी गई है. एक तो हर पशु पालक से हर दिन गाय और भैंस का 10 लीटर दूध ख़रीदने की गारंटी है तो दूसरी ओर दो रुपए किलो में गोबर ख़रीदने की. कांग्रेस ने कहा है कि इन दोनों गारंटियों से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को ताक़त भी मिलेगी.

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने कहा, सरकार बनते ही लागू होंगी गारंटी

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने हिमाचल की जनता को दी गई गारंटी पर मुहर लगाते हुए यह विश्वास जताया है कि कांग्रेस की सरकार बनते हुए ही इनको लागू किया जाएगा। प्रियंका गांधी ने टिवट कर कहा है कि काग्रेस पार्टी जनता के मुद्दों पर काम और प्रदेश के विकास का संकल्प लेती है।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.