मुख्यमंत्री ने शिमला जिला के रामपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए 124 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किए

 

मुख्यमंत्री ने ज्यूरी और थली चकती में उप-तहसील, खोलीघाट में पुलिस चौकी व सराहन में बस अड्डा बनाने की घोषणा की

 

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज शिमला जिला के रामपुर विधानसभा क्षेत्र के रामपुर में 124 करोड़ रुपये की 30 विकासात्मक योजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए।

गोविन्द बल्लभ पंत राजकीय डिग्री कॉलेज रामपुर मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने शिंगला में संस्कृत महाविद्यालय, नीरथ में हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड का उपमंडल, खोलीघाट में पुलिस पोस्ट, ज्यूरी और थली चकती में उप-तहसील, सराहन में बस स्टैंड और ज्यूरी में फायर पोस्ट खोलने की घोषणा की। उन्होंने सीआरएफ के अन्तर्गत 108 करोड़ रुपये की लागत से बन रही टिक्कर खमांडी सड़क के रख-रखाव के लिए 10 करोड़ रुपये देने की भी घोषणा की। उन्होंने बरांदली खड्ड-सुनगरी सड़क का निर्माण और रख-रखाव प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना-III के अन्तर्गत करने की भी घोषणा की। उन्होंने क्षेत्र के तीन पशु औषधालयों को पशु अस्पताल में स्तरोन्नत करने, एक प्राथमिक पाठशाला को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने व प्राथमिक पाठशाला रामपुर को मॉडल स्कूल करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जाखड़ी से कहरकहान गौरा सड़क के मैटलिंग कार्य पर नाबार्ड के अन्तर्गत 5.85 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

जय राम ठाकुर ने कहा कि रामपुर क्षेत्र उनके अपने सराज क्षेत्र के समान है और सरकार द्वारा विकास के मामले में इसे प्राथमिकता प्रदान की जा रही है। उन्होंने रामपुर विधानसभा क्षेत्र के लोगों से भाजपा को एक बार प्रतिनिधित्व का अवसर प्रदान करने का आग्रह किया ताकि वे विकास में अन्तर को महसूस कर सकंे। उन्होंने कहा कि यह हैरानी की बात है कि कांग्रेस द्वारा प्रतिनिधित्व करने के बावजूद क्षेत्र की कई पंचायतें और गांव सड़क सुविधा से वंचित हैं। उन्होंने कहा कि यद्यपि यह क्षेत्र प्रदेश के सबसे बड़े नेता से जुड़ा हुआ है, परन्तु इस क्षेत्र में बुनियादी सुविधाओं की कमी हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को इस बात पर विचार करना चाहिए कि वे कब तक स्वयं को एक परिवार से जोड़ कर रखेंगे और विकास के मामले में पिछड़े रहेंगे।

जय राम ठाकुर ने कहा कि सदी की सबसे बड़ी महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्र को सुरक्षित रखा और लोगों का भी सफलतापूर्वक मार्गदर्शन किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने संकट की इस घड़ी में प्रदेशवासियों की सुरक्षा सुनिश्चित की। इस महामारी के प्रबन्धन में प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों और कोविड की पहली और दूसरी खुराक का शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने में पहला स्थान प्राप्त करने पर प्रधानमंत्री द्वारा प्रदेश की सराहना की गई है। उन्होंने कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री ने प्रदेश के दौरे के दौरान शिमला से राष्ट्र स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित किया और वर्चुअल माध्यम से देश के 17 लाख से अधिक लोग इस कार्यक्रम के साक्षी बने। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री लोगों के साथ सीधा सम्पर्क स्थापित करने से स्वयं को रोक नहीं पाए और उन्होंने मालरोड पर पदयात्रा भी की। यह प्रदेश के लोगांेे के प्रति उनके अपार स्नेह को दर्शाता है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के प्रधानमंत्री केवल शिमला के वातावरण का आनन्द लेने के लिए ही प्रदेश की यात्रा करते थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री हिमकेयर, सहारा योजना, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना, शगुन जैसी योजनाएं प्रदेश के जरूरतमंद परिवारों की आवश्यकताओं की पूर्ति में सहायक सिद्ध हो रही हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन में उल्लेखनीय वृद्धि की है और बिना आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने की आयु सीमा को पहले 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष और अब 60 वर्ष कर दिया गया है। चालू वित्त वर्ष के दौरान जरूरतमंद लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने पर 1300 करोड़ रुपये की राशि व्यय की जा रही है। इसके बावजूद कांग्रेस के नेता प्रदेश सरकार पर कमजोर वर्गों की अनदेखी के आधारहीन आरोप लगा रहे हैं।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण और उनके उत्थान पर विशेष बल दे रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस वर्ष के जुलाई माह से हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट प्रदान करने और घरेलू विद्युत उपभोक्ताओं को प्रतिमाह 125 यूनिट निःशुल्क बिजली प्रदान करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में निःशुल्क पेयजल उपलब्ध करवाने का भी निर्णय लिया है। प्रदेश सरकार ने विभिन्न पैरा कार्यकर्ताओं के मानदेय में भी रिकॉर्ड वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता प्रदेश में हो रहे विकास को पचा नहीं पा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य के स्वयं सहायता समूहों के लिए 25 हजार रुपये के रिवॉल्विंग फंड का प्रावधान किया है। उन्होंने विकास के मुद्दों पर इस ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं की सक्रियता के लिए उनकी सराहना की।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने 13.45 करोड़ रुपये से निर्मित कुरपान खड्ड से ननखड़ी उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत दतनगर में ट्यूबवैल से गांव भदरास तक 1.64 करोड़ रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत खरांगला की विभिन्न बस्तियों के लिए 1.67 करोड़ रुपये की बहाव जलापूर्ति योजना, 3.17 करोड़ रुपये से निर्मित ननान से धरेली सड़क, 5.92 करोड़ रुपये से निर्मित रूगेंहा से धरला सड़क, 8.69 करोड़ रुपये से निर्मित समेज से सरपरा सड़क, 4.30 करोड़ रुपये से निर्मित कोटला से कुन्नी सड़क, 1.33 करोड़ रुपये से निर्मित लस्सा से भलीधार सड़क, 1.97 करोड़ रुपये से निर्मित लस्सा से लमनाह खनेशनी सड़क, ननखड़ी में 31 लाख रुपये से निर्मित निरीक्षण कुटीर आदर्श नगर, बाहली के नरेन में 49 लाख रुपये से निर्मित वन विश्राम गृह और दियोठी में 1.10 करोड़ रुपये से निर्मित विश्राम गृह का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री ने 1.78 करोड़ रुपये की लागत से जल शक्ति उपमण्डल रामपुर के तहत विभिन्न पेयजल आपूर्ति योजनाओं के स्रोतों के सुदृढ़ीकरण और ग्राम पंचायत भड़ावली, शिंगला और सरपारा की विभिन्न बस्तियों के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना/बहाव पेयजल आपूर्ति योजना, 1.65 करोड़ रुपये की लागत से जल शक्ति उपमण्डल सराहन के तहत विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं के स्रोत के सुदृढ़ीकरण और जल शक्ति उपमण्डल सराहन के तहत विभिन्न गांव के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना/बहाव पेयजल आपूर्ति योजना, 1.98 करोड़ रुपये की लागत से जल शक्ति उपमण्डल तकलेच के तहत विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं के स्रोतों के सुदृढ़ीकरण, 1.85 करोड़ रुपये की लागत से जल शक्ति उपमण्डल ननखड़ी के तहत विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं के सुदृढ़ीकरण, 11.81 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत देलथ और करांगला में छबेड़ खड्ड से देलथ करांगला बागवानी क्षेत्र के लिए उठाऊ सिंचाई योजना, 2.63 करोड़ रुपये लागत से ग्राम पंचायत किन्नू में विभिन्न गांवों के लिए बहाव जलापूर्ति योजना, 7.59 करोड़ रुपये की लागत से तहसील रामपुर की ग्राम पंचायत लम्बाना संधाना और फांचा के विभिन्न गांव को उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 4.83 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत बड़ावली में बड़ावली समूह गंाव के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 4.84 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत शिंगला के गांवों के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 2.79 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत सरपारा में डीपीएफ दिलपा, डीपीएफ बस्तियां सुरूगड, डगशिणी की आंशिक रूप से कवर बस्तियों के लिए बहाव जलापूर्ति योजना, 15.10 करोड़ रुपये की लागत से जल शक्ति उपमण्डल रामपुर के तहत विभिन्न बस्तियों के लिए बहाव जलापूर्ति योजना, 14.81 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत बाहली में जलाूपर्ति योजना बाहली, 3.96 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत देवनगर में जलापूर्ति योजना सोबली देवनगर, 1.22 करोड़ रुपये की लागत से सराहन में सहायक अभियन्ता कार्यालय एवं आवास, 42 लाख रुपये की लागत से नगर परिषद रामपुर के वार्ड नम्बर 4 में परिधि गृह से गौसदन तक सम्पर्क सड़क, 83 लाख रुपये की लागत से वार्ड नम्बर 3 रामपुर में स्वपोषित योजना के तहत परिषद की दुकानें, 89 लाख रुपये की लागत से करांगला से कुंथ तक सम्पर्क सड़क और 53 लाख रुपये की लागत से बाडी से धौण तक सम्पर्क मार्ग का शिलान्यास किया।

स्थानीय लोगों ने शिंगला हेलीपैड से लेकर जनसभा स्थल रामपुर कॉलेज मैदान तक मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया। इस अवसर पर अनेक सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक संगठनों ने मुख्यमंत्री को सम्मानित भी किया।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं साधारण परिवेश से होने के कारण आम आदमी की विकासात्मक आवश्यकताओं को बेहतर ढंग से समझते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा गत साढ़े चार वर्षो के दौरान शुरू की गई अनेक कल्याणकारी योजनाएं क्षेत्र की विकासात्मक मांगों के प्रति उनकी चिंता को दर्शाती हैं।

हिमकोफेड के अध्यक्ष कौल नेगी ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए क्षेत्र की विकासात्मक मांगों को हमेशा ही प्राथमिकता देने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर भाजपा मंडलाध्यक्ष भीम सेन ठाकुर, चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा, आनी के विधायक किशोरी लाल सागर, हस्तशिल्प एवं हथकरघा निगम के अध्यक्ष संजीव कटवाल, राज्य वन निगम के उपाध्यक्ष सूरत नेगी, पूर्व मंत्री सिंघी राम, महासू संगठन जिला भाजपा अध्यक्ष अजय श्याम, भाजपा नेता बृजलाल, केवल राम बुशैहरी, उपायुक्त आदित्य नेगी, पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.