फील्ड अधिकारियों और कर्मचारियों को वाइल्ड फोटोग्राफी और पक्षी प्रजातियों की दी जानकारी

वन्यप्राणी सप्ताह के उपलक्ष्य में , वन्यप्राणी प्रभाग वन विभाग द्वारा वन्यप्राणी प्रभाग के फील्ड आफिसर और ऑफिसियल के लिये वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी, फिल्मिंग और पक्षियों की प्रजातियों के बारे जानने के विभिन्न तरीकों के ऊपर एक कार्यशाला का आयोजन कॉन्फ्रेंस हॉल टालेंड शिमला में किया गया। कार्यशाला का शुभारंभ राजीव कुमार ,प्रधान मुख्यअरण्यपाल वन्यप्राणी प्रभाग (वन विभाग) ने किया ।
राजीव कुमार ने बताया कि वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी , वीडियो मेकिंग और पक्षियों की प्रजातियों को रिकॉर्ड करना भी वन्यप्राणियों के संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए सभी प्रतिभागी इस कार्यशाला से सीख कर जाएं और अपने अपने कार्यक्षेत्र में जाकर सिखाये गए विभिन्न तरीकों का प्रयोग करें।

शिव कुमार , देश के प्रसिद्ध वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर ने सभी प्रतिभागियों को वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी के विभिन्न तरीकों से अवगत करवाया ।

हिमांशु चौधरी पक्षी विशेषज्ञ ने सभी प्रभागियों को पक्षियों की प्रजातियों को पहचानने और रिकॉर्ड करने के विभिन्न तरीकों (ebird) से अवगत करवाया। इस कार्यशाला में 40 से ज्यादा प्रतिभागियों ने भाग लिया ।

इस कार्यक्रम में अतिरिक्त प्रधान मुख्यअरण्यपाल अनिल ठाकुर , मुख्यअरण्यपाल शिमला दक्षिण के थिरुमल, वन मंडलाधिकारी ,वन्यप्राणी मंडल शिमला अनिता भारद्वाज ,वन मंडलाधिकारी मुख्यालय शीतल शर्मा और वन्यप्राणी प्रभाग के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.