एसजेवीएन ने विश्व रक्तदाता दिवस मनाया

????????????????????????????????????

एसजेवीएन ने अपने कारपोरेट मुख्यालय शिमला और अपनी सभी परियोजनाओं और कार्यालयों में विश्व रक्तदाता दिवस मनाया। गीता कपूर, निदेशक (कार्मिक), एसजेवीएन ने सभी कर्मचारियों को नियमित रूप से रक्तदान करने की शपथ दिलाई। इस वर्ष की थीम है “रक्तदान करना एकजुटता का कार्य है”।
ए.के. सिंह, निदेशक (वित्त), सुशील शर्मा, निदेशक (विद्युत) और प्रेम प्रकाश, मुख्य सतर्कता अधिकारी की उपस्थिति में यह शपथ दिलाई गई। इस अवसर पर एसजेवीएन के वरिष्ठ अधिकारी तथा कारपोरेट मुख्यालय में तैनात सभी कर्मचारी उपस्थित थे।
एसजेवीएन के अध्यक्ष एवम प्रबंध निदेशक नन्‍द लाल शर्मा ने कहा कि एसजेवीएन समाज की उन्‍नति में योगदान देने के लिए विभिन्न कल्याणकारी उपायों को अपना रहा है। नन्द लाल शर्मा ने बताया कि एसजेवीनाइट्स जिसमें कर्मचारी, उनके परिवार के सदस्यों और संविदात्‍मक कर्मचारी शामिल हैं, सदैव इस पुनीत उद्देश्‍य के लिए स्वैच्छिक योगदान में सबसे आगे रहे हैं। इन रक्‍तदाताओं के पुनीत प्रयासों के मान्यतास्‍वरूप एसजेवीएन आज इन रक्‍तदाताओं को सम्मानित कर रहा है।

इस अवसर पर संबोधित करते हुए गीता कपूर ने कहा कि एसजेवीनाइट्स रक्तदान करने में सदैव अग्रणी रहे हैं और गत वर्ष के दौरान एसजेवीएन की विभिन्न परियोजनाओं और कार्यालयों में आयोजित विभिन्न शिविरों में 700 यूनिट से अधिक का रक्तदान किया गया है। यह रक्तदान शिविर अस्पतालों के लिए लाभदायक रहे हैं और इन अस्पतालों में रोगियों के लिए रक्त की आवश्‍यकताओं की पूर्ति करते हैं। उन्होंने एसजेवीनाइट्स को नियमित रूप से रक्तदान करने का आह्वान किया और रक्‍तदान को मानवता का सबसे पुनीत कार्य बताया।

इस अवसर पर एसजेवीएन द्वारा अपने कारपोरेट मुख्यालय में आयोजित शिविरों में नियमित रूप से रक्तदान करने वाले बाईस(22) रक्‍तदाताओं को भी सम्मानित किया गया जिसमें सतलुज लेडीज क्लब की मुख्य संरक्षक, ललिता शर्मा भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.