मुख्यमंत्री ने ऊना जिला के गगरेट विधानसभा क्षेत्र में 180.31 करोड़ के उद्धघाटन व शिलान्यास किए

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ऊना जिला के गगरेट विधानसभा क्षेत्र में 180.31 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए। इस अवसर पर उन्होंने लोहारली में जनसभा को सम्बोधित करते हुए दौलतपुर में उप-तहसील खोलने, राजकीय उच्च पाठशाला लोहारली को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने, घानवी में उप-रोजगार कार्यालय खोलने, गुगलेहड़ में नया पटवार वृत स्थापित करने, पशु औषधालयों भंजल, जोह व बंजरी को स्तरोन्नत करने, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला तुड़ में वाणिज्य संकाय की कक्षाएं शुरू करने, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों अमलेहड़ व बदराड़ा राजपूता को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के रूप में स्तरोन्नत करने, राजकीय प्राथमिक पाठशाला अठवाण को राजकीय माध्यमिक पाठशाला तथा राजकीय माध्यमिक पाठशाला बबेहड़ को राजकीय उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने 20 बिस्तर क्षमता के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दौलतपुर को 50 बिस्तर के अस्पताल में स्तरोन्नत करने की भी घोषणा की।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपने कार्यकाल के सवा चार वर्ष पूर्ण कर लिए हैं और इनमें से लगभग दो वर्ष कोरोना महामारी से प्रभावित रहे। उन्होंने कहा कि किसी ने भी यह नहीं सोचा था कि इस वायरस का विश्व की आर्थिकी पर इतना गम्भीर प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा कि स्थिति और भी गम्भीर हो सकती थी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सक्षम नेतृत्व के कारण उन्होंने समय पर सही निर्णय लेते हुए देश को इस संकट से उभारा और विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान को सफलतापूर्वक संचालित किया।
जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपने कार्यकाल मंे अन्तिम व्यक्ति तक विकासात्मक योजनाओं का लाभ सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने अनेक नई योजनाएं और कार्यक्रम प्रारम्भ किए हैं जबकि पूर्व की कांग्रेस सरकार अपने कार्यकाल में एक भी नई योजना शुरू नहीं कर सकी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने अपने कार्यकाल का पहला निर्णय वृद्धजनों के कल्याण से सम्बन्धित लिया। इसके अन्तर्गत वृद्धवस्था पेंशन के लिए बिना किसी आय सीमा के पात्रता की आयु सीमा 80 से घटाकर 70 वर्ष की गई और अब इसे घटाकर 60 वर्ष कर दिया गया है तथा पात्र लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने पर 1300 करोड़ व्यय किए जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री हिमकेयर योजना के अन्तर्गत 2.25 लाख लोगों को निःशुल्क उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है तथा प्रदेश सरकार के जनमंच कार्यक्रम लोगो की समस्याओं का घरद्वार पर निराकरण करने में वरदान सिद्ध हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि शगुन योजना के अन्तर्गत बीपीएल परिवार की बेटियों को उनके विवाह पर 31000 रुपये प्रदान किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सहारा योजना के अन्तर्गत गम्भीर रूप से बीमार रोगियों के परिवारों को 3000 रुपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि 60 यूनिट तक बिजली की खपत करने वाले उपभोक्ताओं को ज़ीरो बिल सहित मीटर रेंट और सर्विस चार्ज में छूट दी गई है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने कोरोना महामारी जैसे संवेदनशील मुद्दे का भी राजनीतिकरण किया और कोरोना वैक्सीन के प्रति दुष्प्रचार किया। उन्होंने कहा कि अब उन्हीं नेताओं ने कोविड टीका लगवा लिया है। उन्होंने कहा कि राज्य के लोग कांग्रेस नेताओं के इस दुष्प्रचार को जान चुके हैं और उनके झांसे में आने वाले नहीं हैं।
इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय उच्च मार्ग-70 में झंगोली खड्ड पर 5.19 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पुल, 21.13 करोड़ रुपये की लागत से नंगल मुबारिकपुर सड़क के उन्नयन कार्य, 5.95 करोड़ रुपये की लागत से थपलान सड़क के उन्नयन कार्य, 2.54 करोड़ रुपये की लागत से दौलतपुर से पीर्थीपुर उपरला सड़क के उन्नयन कार्य, 2.50 करोड़ रुपये की लागत से गुगलेहर सड़क के उन्नयन कार्य, 2.52 करोड़ रुपये की लागत से मैदानगढ़ से मुहाल जोह सड़क के उन्नयन कार्य, 5.95 करोड़ रुपये की लागत से जीतपुर बेहरी सड़क के उन्नयन कार्य, 13.64 करोड़ रुपये की लागत से शिवबाड़ी से दवाली सड़क के उन्नयन कार्य तथा दौलतपुर चौक पर लोक निर्माण विभाग के नए मंडल तथा उपमंडल के उद्घाटन किए।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 3.54 करोड़ रुपये की लागत सेे मंधवाड़ा ट्यूबवेल के सुधार कार्य, 3.80 करोड़ रुपये की लागत से भ्रदकाली, मावा कोहलां आदि ट्यूबवेल के सुधार कार्य, 3.74 करोड़ रुपये की लागत से गुगलैहड़, कुठेड़ा आदि ट्यूबवेल के सुधार कार्य, 27.65 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ पेयजल योजना काला पंगा, मावा काहोलां के संवर्धन कार्य, 1.85 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ पेयजल योजना शिवपुर तथा बन्ने दी हट्टी के संवर्धन कार्य, 5.55 करोड़ रुपये की लागत से दौलतपुर बाजार पेयजल योजना के संवर्धन कार्य, 2 करोड़ रुपये की लागत से डॉ. बी.आर. अम्बेडकर राजकीय बहुतनीकी संस्थान में कार्यशाला भवन, 43.37 करोड़ रुपये की लागत से गगरेट लौहारली चुरडू मार्ग पर स्वां नदी पर निर्मित होने वाले पुल, 1.34 करोड़ रुपये की लागत से मरवाड़ी में विज्ञान प्रयोगशाला, 10.71 करोड़ रुपये की लागत से हाल ही में स्तरोन्नत 50 बिस्तर क्षमता के घुनारी अस्पताल और 17.34 करोड़ रुपये की लागत से राष्ट्रीय उच्च मार्ग-70 पर कलरूही खड्ड पर निर्मित होने वाले पुल के शिलान्यास किए।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर गगरेट-लोहारली-चुरड़ू पुल निर्माण के लिए भूमि दान करने पर मदन पठानिया और मनोहर पठानिया को सम्मानित भी किया। यूक्रेन से सुरक्षित घर लाए गए बच्चों के अभिभावकों ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री को सम्मानित किया।
केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण व युवा कार्य एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि स्वां नदी पर निर्मित होने वाले गगरेट-लोहारली-चुरूड़ू पुल से ऊना, चिन्तपूर्णी और अन्य क्षेत्रों का अम्ब और गगरेट के अन्य क्षेत्रों से सम्पर्क और भी बेहतर हो सकेगा। उन्होंने कहा कि वे केन्द्र सरकार से राज्य तथा अपने लोकसभा क्षेत्र के विकास के लिए अधिक से अधिक धनराशि लाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि खेलों से सम्बन्धित सभी मांगें पूरी कर ली जाएंगी। उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री द्वारा ऊना जिला में 380 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए गए हैं और यह केन्द्र एवं राज्य में डबल ईंजन की सरकार के कारण ही सम्भव हो सका है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश की 135 करोड़ की आबादी को निःशुल्क वैक्सीन उपलब्ध करवाई है। उन्होंने कहा कि वे इस क्षेत्र में केन्द्रीय विद्यालय खोलने की मांग केन्द्र सरकार के समक्ष रखेंगे।
स्थानीय विधायक राजेश ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए गगरेट विधानसभा क्षेत्र मे 180.31 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लिए उनका आभार व्यक्त किया। उन्होंने लोहारड़ी-चुरूडू़ सड़क मार्ग पर स्वां नदी पर 43.37 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाले पुल के शिलान्यास, गगरेट में उप-मण्डलाधिकारी कार्यालय तथा अन्य महत्वकांक्षी परियोजनाओं के लिए भी मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की उदार सहायता से 18 खड्डों के तटीयकरण का कार्य पूरा हो सका है। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगांे का भी ब्यौरा रखा।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर, चिंतपुर्णी के विधायक बलबीर चौधरी, इंदौरा की विधायक रीटा धीमान, राज्य औद्योगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रोफेसर राम कुमार, जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल, गगरेट मंडल भाजपा के अध्यक्ष सतपाल, उपायुक्त राघव शर्मा, पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन सहित अन्य गणमान्य इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.