February 25, 2024

मुख्यमंत्री ने आरकेएमवी में छः करोड़ रुपये लागत से नव-निर्मित बी-ब्लॉक भवन का लोकार्पण किया

1 min read

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज राजकीय कन्या महाविद्यालय (आरकेएमवी) शिमला में छः करोड़ रुपये की लागत से निर्मित बी-ब्लॉक का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने छोटा राज्य होने के बावजूद विकास के मामले में देश के अन्य बड़े राज्यों का पथ प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विकास के मामले में देश का अग्रणी राज्य है। प्रदेश सरकार प्रदेश के कुल बजट का लगभग 16 प्रतिशत शिक्षा पर व्यय कर रही है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं को गुणात्त्मक और रोजगार उन्मुख शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा की अधोसंरचना के सुदृढ़ीकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश को देश के ऊर्जा राज्य के रूप में भी जाना जाता है और देश की लगभग 25 प्रतिशत ऊर्जा क्षमता राज्य में उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा आने वाले वर्षों में राज्य की लगभग 23000 मेगावाट ऊर्जा के उपयोग का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि 60 यूनिट बिजली की खपत पर जीरो बिलिंग की जाएगी और 61 से 125 यूनिट की खपत पर उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट एक रुपये की रियायती दर पर सस्ती बिजली प्रदान की जाएगी।

जय राम ठाकुर ने बालिकाओं को विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढ़ने के लिए समर्पण और प्रतिबद्धता के साथ कार्य करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कठिन परिश्रम का कोई और विकल्प नहीं है और आज के प्रतिस्पर्धा के इस दौर में अपने सपनों को साकार करने के लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी चाहिए।

उन्होंने महाविद्यालय के विज्ञान खंड के जीर्णोद्धार के लिए 40 लाख रुपये प्रदान करने तथा शीघ्र तैयार होने वाले नए खंड में बहुउद्देशीय हॉल के लिए दो करोड़ रुपये अतिरिक्त राशि देने की भी घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाली बालिकाओं को अपनी ऐच्छिक निधि से 51 हजार रुपये देने की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार भी प्रदान किए।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि आरकेएमवी प्रदेश के प्रतिष्ठित कन्या महाविद्यालयों में से एक है। इस महाविद्यालय से शिक्षा ग्रहण कर चुकी गई छात्राओं ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। उन्होंने महाविद्यालय के विज्ञान खंड के जीर्णोद्धार और बहुउद्देशीय हॉल के लिए निधि प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने मुख्यमंत्री से महाविद्यालय के लिए नए छात्रावास भवन को निर्मित का आग्रह किया।

शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने कोरोना महामारी के दौरान विद्यार्थियों की निर्बाध पढ़ाई जारी रखने के लिए ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन सुनिश्चित किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में बालिका शिक्षा पर विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा वित्त वर्ष 2022-23 के लिए 8412 करोड़ रुपये बजट आबंटित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

राजकीय कन्या महाविद्यालय शिमला के प्रधानाचार्य डॉ. नविंदू शर्मा ने मुख्यमंत्री व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए वर्ष 2022-23 के बजट में शिक्षा क्षेत्र के लिए पर्याप्त प्रावधान करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड (एचपीएसईबी) लिमिटेड के संयुक्त निदेशक ने ऊर्जा मेला और ऊर्जा क्लब की मुख्य विशेषताओं की जानकारी दी।

इस अवसर पर उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, निदेशक उच्च शिक्षा डॉ. अमरजीत शर्मा, आरकेएमवी महाविद्यालय के अभिभावक-अध्यापक संघ के अध्यक्ष एम.आर. भारद्वाज, अधीक्षण अभियंता लोक निर्माण विभाग सुरेश कपूर सहित अन्य उपस्थित थे।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.