जिन राज्यों में चुनाव उनको अपना घर बना लेते हैं प्रधानमंत्रीः नरेश चौहान

गुजरात के अलावा वाराणसी को भी अपना घर बता चुके हैं नरेंद्र मोदी
असफल मुख्यमंत्री और सरकार प्रधानमंत्री को बनाना चाह रहे चुनावी चेहरा

हिमाचल कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष नरेश चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चुनावी बेला में हिमाचल का बार-बार दौरा करने और हर दौरे में हिमाचल को दूसरा घर बताने पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि जिन राज्यों में चुनाव होते हैं, प्रधानमंत्री उनको अपना घर बना लेते हैं। प्रधानमंत्री गुजरात के अलावा उतर प्रदेश के वाराणसी को भी अपना घर बता चुके हैं। अब हिमाचल आकर वे बार बार कर रहे हैं कि हिमाचल उनका दूसरा घर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की कथनी और करनी में बड़ा अंतर है। वे हिमाचल को शब्दों में ही अपना दूसरा मानते हैं, उनकी हिमाचल के लोगों से कोई संवेदना नहीं है। हिमाचल आज 70 हजार करोड़ के कर्ज में डूब चूका है और प्रधानमंत्री हिमाचल करीब आठ बार दौरा कर चुके हैं। एक बार भी उन्होंने हिमाचल के लिए आर्थिक पैकेज नहीं दिया। प्रधानमंत्री के दौरे से हिमाचल के लोगों को बडी उम्मीदें रहती हैं, लेकिन हर बार वे लोगों को निराश कर रहे हैं।

नरेश चौहान ने प्रधानमंत्री के बार-बार दौरों को लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि उनको चुनावी बेला में हिमाचल दौरे की क्या जरूरत है। बीते दस दिनों में वे हिमाचल को दूसरा दौरा करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि वे इससे पहले भी हिमाचल आए और हिमाचल के भोले भाले लोगों से कई वादे किए। सेब बागवानों, पर्यटन कारोबारियों के लिए कई वादे किए मगर सरकार बनने पर वादे पूरे नहीं किए।

असफल मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को बनाने चाह रहे चुनावी चेहरा
कांग्रेस नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री के बार-बार हिमाचल आने के पीछे भाजपा और जयराम सरकार का राजनीतिक उद्देश्य छिपा है, यह सब जानते हैं। जयराम ठाकुर खुद एक असफल मुख्यमंत्री और उनकी पूरी सरकार विफल साबित हुई है। कर्मचारी ओपीएस की मांग को लेकर एक साल से अधिक समय से आंदोलनरत है। बागवान फलों की उचित दाम की मांगों लेकर सड़कों पर उतरे हैं। ऐसे में जयराम ठाकुर अपनी सरकार के नाम पर वोट नहीं मांग पा रही है। यही वजह है कि चुनावों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चेहरा बनाने की कोशिश की जा रही है। जबकि ये वही प्रधानमंत्री है, जो बेरोजगारी और मंहगाई के मोर्चे पर पूरी तरह से विफल रहे हैं। देश में हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा करने वाले नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में युवाओं को रोजगार तो मिला नहीं, उल्टा रोजगार छीना गया है। मंहगाई आसमान छू रही है।

कांग्रेस सरकार बनने से रोकने का मुख्यमंत्री के पास कौन सा माडल
नरेश चौहान ने कहा कि जयराम ठाकुर बार-बार कह रहे हैं कि हिमाचल में कांग्रेस सरकार किसी भी कीमत पर नहीं बनने देंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि सरकार जनता बनाती है, कोई व्यक्ति नहीं। उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल किया कि आखिर उऩके पास ऐसा क्या माडल है जो कांग्रेस को सरकार बनाने से रोके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कांग्रेस नेताओं को तोड़ने का प्रयास कर रहे है। यह इसलिए क्योकि उन्होंने पांच सालों में न तो काम किया और न ही उनको अपने मंत्रियों और विधायकों पर भरोसा है। सरकार के मंत्रियों और विधायकों की पर्फारेंस शून्य रही है, इसलिए वे डिफेक्शन की रणनीति अपना रहे हैं। लेकिन हिमाचल की जनता उनके मंसूबों को पूरा नहीं होने देगी।
नरेश चौहान ने कहा कि हिमाचल की जनता को कांग्रेस से उम्मीद हैं। कांग्रेस ने हिमाचल के हर वर्ग को गारंटी दी है। कर्मचारियों, बागवानों सहित सभी वर्गों की उम्मीदों को कांग्रेस अपनी सरकार बनने पर पूरा करेगी।
इस मौके पर कांग्रेस सचिव एडवोकेट चंद्रमोहन सिंह चंदेल, युवा कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता विक्रांत शर्मा भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.