June 22, 2024

मुख्यमंत्री ने चायल कोटी में प्रगतिशील हिमाचल स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम की अध्यक्षता की

1 min read

मुख्यमंत्री ने बलदेयां और कोट में उप-तहसील खोलने की घोषणा की

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला शिमला के कसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र के चायल कोटी में हिमाचल प्रदेश के अस्तित्व में आने 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य पर आयोजित ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ समारोह में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए क्षेत्र के बलदेयां और कोटी में उप-तहसील खोलने, कोटी में 33 केवी विद्युत उप-केन्द्र स्थापित करने, बणी और पटचैर राजकीय उच्च पाठशालाओं को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कें हिमाचल प्रदेश जैसे पहाड़ी राज्य की भाग्य रेखाएं हैं और प्रदेश की प्रगति में इनकी मुख्य भूमिका है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने राज्य में सड़कों के निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की है और कोविड महामारी के बावजूद गत साढ़े चार वर्षों के दौरान 4200 किलो मीटर लम्बी सड़कें निर्मित की गई हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा आरम्भ की गई प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना प्रदेश के दूरदराज क्षेत्रों तक सड़क सुविधा प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस योजना के अन्तर्गत लगभग 51 प्रतिशत सड़कें निर्मित की गई हैं।
जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान में भारत, विश्व नेता बनकर उभरे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्व में सुरक्षित है और उनके नेतृत्व में देश ने अपना पुराना गौरव और सम्मान हासिल किया है। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के कठिन दौर से देश को उबारने और भारतीय वैज्ञानिकों को स्वदेशी टीका विकसित करने के लिए प्रेरित करने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जाता है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने टीकाकरण अभियान में उत्कृष्ट कार्य किया है और देश में पहली और दूसरी खुराक देने का शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने में हिमाचल अग्रणी रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए प्रदेश के प्रयासों की सराहना की है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में विपक्षी दल की सरकारों ने गरीबों और दलितों के कल्याण के लिए एक भी योजना शुरू नहीं की थी। जबकि, वर्तमान राज्य सरकार ने समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण और उत्थान के लिए सहारा योजना, मुख्यमंत्री शगुन योजना, हिमकेयर, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना और मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना जैसी कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए विपक्ष के नेता प्रदेश की जनता को गुमराह कर रहे हैं।
जय राम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस नेताविहीन, मुद्दाविहीन और दिशाहीन पार्टी बन चुकी है। आने वाले वर्षों में प्रदेश में विकास की गति बनाए रखने के लिए हिमाचल और केंद्र में डबल इंजन सरकार बहुत जरूरी है।
मुख्यमंत्री ने विपक्ष के नेताओं पर वर्तमान सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को प्रलोभन बताने का आरोप लगाते हुए कहा कि अब यह नेता सत्ता में आने पर इन जन कल्याणकारी योजनाओं को बंद करने की बात कर रहे हैं।
इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश के गठन के 75 वर्षों पर तैयार किए गए एक थीम गीत का गायन किया गया। सूचना एवं जन संपर्क विभाग द्वारा हिमाचल प्रदेश की 75 वर्ष की गौरवशाली यात्रा पर तैयार किए गए एक वृत्तचित्र को भी प्रदर्शित किया गया।
सांसद सुरेश कश्यप ने केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार के आठ वर्ष के कार्यकाल की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में राज्य ने उल्लेखनीय प्रगति की है।
इस अवसर पर कसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र की भाजपा नेत्री विजय ज्योति सेन ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत के पूर्व प्रधान और कांग्रेस नेता सुरेंद्र गर्ग मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की उपस्थिति में अपने समर्थकों सहित भाजपा में शामिल हुए।
चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा, पूर्व सांसद वीरेंद्र कश्यप, सक्षम गुड़िया बोर्ड की अध्यक्ष रूपा शर्मा, पूर्व विधायक रूप दास कश्यप, कैलाश फेडरेशन के अध्यक्ष रवि मैहता, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका और क्षेत्र के अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.