स्टेट क्राइम ब्रांच एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग पंचकूला टीम ने कालका से गुमशुदा 5 बच्चों को शिमला से बरामद किया

स्टेट क्राइम ब्रांच एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग(AHTU )पंचकूला टीम ने

Asi.राजेश कुमार की अगुवाई में कालका से गुमशुदा 5 बच्चों को शिमला में बरामद कर कर परिवार से मिलवाया। प सीडब्ल्यूसी चेयरपर्सन शिमला से स्टेट क्राइम ब्रांच एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग पंचकूला को सूचना मिली थी कि उनके पास 5 बच्चे हैं। ये रेलवे स्टेशन शिमला से 25 मई की रात 1:00 बजे लावारिस अवस्था में मिले थे। यह बच्चे सिर्फ कालका बोल रहे थे, जिसमें 4.लड़कियां और 1लड़का शामिल थे। इनकी आयु 12 साल, 7 साल 4 साल 3 साल 2 साल है। AHTU पंचकूला में तैनात ASI राजेश कुमार ने बच्चों से फोन के माध्यम से काउंसलिंग की और कालका में उन बच्चों को परिवार का तलाश किया। बच्चों की माता और बुआ ने बताया कि यह बच्चे दिन में यही पर खेलते थे, हमें नहीं पता कि यह बच्चे कहां पहुंच गए । राजेश कुमार ने बताया आपके बच्चे शिमला पहुंच गए हैं और माता पिता बच्चों की वीडियो देखकर रोने लगे। माता पिता को समझाया गया कि वे लोग चिंता मत करो, आपके बच्चे सुरक्षित हैं। पंचकूला से टीम के सात आए माता पिता को बच्चों ने पहचाना और माता पिता ने भी अपने बच्चों को पहचाना। सीडब्ल्यूसी के आदेश से पांचों बच्चों को परिवार को सौंपा गया। इस टीम में Asi राजेश कुमार, Hc कृष्ण कुमार, Hc दिनेश कुमार शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.