दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया कल आएंगे शिमला, शिक्षा व्यवस्था पर जनता से करेंगे संवाद





हिमाचल में शिक्षा व्यवस्था के हाल पर जनता से सीधा संवाद करने के लिए दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया मंगलवार को शिमला दौरे पर आ रहे हैं। यह जानकारी आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व डीजीपी आईडी भंडारी और गौरव शर्मा ने दी है।

शिमला में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान पार्टी प्रवक्ताओं ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया कल यानी मंगलवार को शिमला आएंगे जहां वह सरकारी स्कूलों का दौरा करेंगे और प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था पर जनता से संवाद करेंगे। प्रदेश सरकार शिक्षा क्षेत्र में बड़े-बड़े दावे करती रहती है कि हिमाचल शिक्षा क्षेत्र में देशभर में दूसरे नम्बर पर है लेकिन आम आदमी पार्टी ने इस सरकार की पोल खोलकर रख दी है।
आप के प्रवक्ता आईडी भंडारी ने कहा कि प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था की हालत यह है कि अच्छी शिक्षा के नाम पर यह लोग हिमाचल वालों को सिर्फ लूट रहे हैं। सिर्फ कागजों में ही दूसरे नम्बर हैं, हकीकत में न तो स्कूलों में शिक्षके हैं और न ही छात्र हैं। अच्छी शिक्षा तो दूर स्कूलों में सुविधाओं का भी अभाव है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने शिक्षा का स्तर इस कद्र गिरा दिया है कि खुद मुख्यमंत्री के जिला में इस साल के शैक्षणिक सत्र के दौरान 26 स्कूलों पर ताला लटक गया है। कई स्कूलों में बच्चों के बैठने के लिए पर्याप्त कमरे भी नहीं हैं। बिना टाट पट्टी के खुले आसमान के नीचे बच्चों को पढ़ाया जा रहा है। शिक्षा की दयनीय स्थिति को लेकर आम आदमी पार्टी चिंतित है और प्रदेश में सरकार बनते ही सबसे पहले शिक्षा व्यवस्था और स्कूलों का सुधार किया जाएगा।

शिमला शहर के बीच में ही दर्जनों स्कूलों की हालत दयनीय,जर्जर भवनों में चल रहे स्कूल

प्रदेश प्रवक्ता आईडी भंडारी और गौरव शर्मा ने बताया कि प्रदेश की राजधानी शिमला शहर के बीच ही कई ऐसे स्कूल हैं जहां स्कूल जर्जर भवनों में चल रहे हैं। इसमें लक्कड़ बाजार, चक्कर के गंडल, संकट मोचन और न जाने ऐसे कितने स्कूल हैं जिनकी हालत बेहद खराब है। ऐसे में बीजेपी सरकार के मॉडल स्कूलों और आधुनिक शिक्षा के दावों की पूरी तरह सर पोल खुल गई है। जिससे आम जनता सरकारी स्कूलों से किनारा कर रहे हैं और जो गरीब बच्चे सरकारी स्कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं उनके साथ इस तरह से सरकार खिलवाड़ कर रही है।

उधर, शिमला दौरे से पूर्व दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि ‘हिमाचल प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था और भाजपा की “सरकारी स्कूल विरोधी नीतियों” को लेकर कल शिमला में जनता से संवाद करूँगा। भाजपा सरकार ने हिमाचल के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई को मजाक बना दिया है। भाजपा सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों के भविष्य को बर्बाद करने पर तुली हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.